सरकारी केंद्रीय कर्मचारियों हुई बल्ले बल्ले, जल्द लागू होगा 8वां वेतन आयोग, सैलरी में होगी इतनी बढ़ोतरी..
 सरकारी केंद्रीय कर्मचारियों हुई बल्ले बल्ले, जल्द लागू होगा 8वां वेतन आयोग, सैलरी में होगी इतनी बढ़ोतरी..
केंद्रीय कर्मचारियों के संगठन काफी दिनों से अपनी कई मांग कर रहे हैं, जिनकी हरी झंडी का समय अब करीब आ गया है, जिसे लेकर हर किसी के चेहरे पर अभी से उत्साह देखने को मिल रहा है। अगर आपके घर में कोई केंद्रीय कर्मचारी है तो फिर यह खबर बहुत ही कीमती साबित होने जा रही है, जिसे लेकर हर किसी के चेहरे पर रौनक दिखाई दे रही है।

मोदी सरकार अब जल्द ही केंद्रीय कर्मचारियों की 8वें वेतन आयोग की मांग को मजूरी देने जा रही है, जिसके बाद सैलरी में रिकॉर्डतोड़ बढ़ोतरी होने की उम्मीद है। दूसरी ओर सरकार अब जल्द ही केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनधारकों के डीए में बंपर बढ़ोतरी करने जा रही है, जिसे लेकर चर्चा तेजी से चल रही है। माना जा रहा है कि डीए में 4 फीसदी का इजाफा किया जा सकता है, जो बढ़कर आराम से 42 प्रतिशत हो जाएगी। वैसे वर्तमन में केंद्रीय कर्मचारियों को 38 फीसदी डीए का लाभ मिल रहा है। इतना ही नहीं सरकार कर्मचारियों के फिटमेंट फैक्टर बढ़ाने पर भी विचार कर रही है, जिससे लोग अब मालामाल होने जा रहे हैं।

सरकार ने 8 वें वेतन आयोग को लेकर कहा थी यह बात

जानकारी के लिए आपको बता दें कि केंद्रीय कर्मचारी काफी दिनों से 8वें वेतन आयोग को लागू करने की मांग काफी लंबे समय से कर रहे हैं। वैसे सरकार ने आधिकारिक तौर पर इस विषय पर सदन में चर्चा से भी इनकार कर दिया था। सरकार ने कहा था कि वां वेतन आयोग लागू होना तो दूर की बात इस पर विचार भी नहीं किया जाएगा, जिसके बाद कर्मचारियों को एक बड़ा झटका जरूर लगा था। अब उम्मीद लगाई जा रही है कि सरकार 8वें वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू करने को लेकर चर्चा कर सकती है।

इतना होग न्यूनतम बेतन

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, केंद्रीय कर्मचारी संगठनों का कहना है कि फिलहाल न्यूनतम वेतन की सीमा 18,000 रुपये से बढ़ सकता है। इतना ही नहीं फिटमेंट फैक्टर को काफी प्रमुखता दी गई है। फिलहाल यह फैक्टर 2.57 गुना है। हालांकि 7वें वेतन आयोग में इसे 3.68 गुना तक रखने की सिफारिश कर दीगई हैं।

अगर इसे लागू किया जाता है तो फिर बेसिक सैलरी में 8,000 रुपये की बढ़ोतरी हो जाएगी। इस हिसाब से बेसिक सैलरी 18 हजार से बढ़कर 26,000 रुपये हो जाएगी। इतना ही नहीं सालाना फिर 97 हजार रुपये का लाभ मिलने लगेगा।

Share this story