Nepal Plane Crash: क्या थी नेपाल विमान क्रैश की वजह, जाने पूरी सच्ची कहानी..

Nepal Plane Crash: क्या थी नेपाल विमान क्रैश की वजह, जाने पूरी सच्ची कहानी..

भारत के पड़ोसी देश नेपाल में रविवार को बड़ा हादसा हो गया. यहां के पोखरा में यति एयरलाइंस का ATR-72 विमान क्रैश हो गया. विमान ने काठमांडू से पोखरा के लिए उड़ान भरी थी. जिसमें 4 क्रू मेंबर के साथ 68 यात्री सवार थे. हादसे में सभी लोगों की मौत की खबर है. बताया जा रहा है कि तकनीकी खराबी या मानवीय त्रुटि के चलते ये हादसा हुआ. हालांकि, पूरी जांच के बाद ही क्रैश की स्पष्ट वजह पता चल पाएगी. 

नेपाल में पिछले कुछ सालों में बड़े विमान हादसे हुए हैं. यहां रविवार को यति एयरलाइंस के विमान ने काठमांडू से पोखरा के लिए उड़ान भरी थी. सोशल मीडिया पर विमान क्रैश से थोड़े समय पहले का वीडियो भी वायरल हो रहा है. इसमें देखा जा सकता है कि आकाश साफ था और मौसम भी खराब नहीं था. 
 
विमान क्रैश की जांच कर रही टीम के एक सदस्य ने समाचार एजेंसी को बताया कि वीडियो क्लिप के अनुसार विमान का ऊपरी हिस्सा थोड़ा ऊपर उठा और फिर उसके पंख बाईं ओर झुक गए. ये एक एंगल हो सकता है. उन्होंने बताया कि जांच पूरी होने के बाद ही विमान क्रैश की असली वजह सामने आएगी. हालांकि, ऐसा लग रहा है कि गलत संचालन, विमान प्रणाली की खराबी या पायलट की थकान की वजह हो सकता है.  

 

प्रमुख भारतीय विमानन कंपनी में पायलट जो नेपाल के लिए भी उड़ान भरते हैं, उन्होंने बताया कि पायलट की थकान समेत हादसे की कई वजह हो सकती हैं. उन्होंने बताया कि विमान उड़ाते समय हर कदम पर निर्णय लेना होता है और पायलट को अच्छे आराम की जरूरत होती है. इसलिए, इस क्रैश की वजह पायलट की थकान हो सकती है और संभावना है कि प्रक्रियाओं का पालन नहीं किया गया हो.  

ATR प्लेन के पायलट ने बताया कि हादसे की वजह तकनीकी खराबी या पायलट की गलती हो सकती है. हालांकि, जांच के बाद ही यह स्पष्ट हो सकेगा. फ्लाइट ट्रैकिंग वेबसाइट Flightradar24  ने बताया कि विमान 15 साल पुराना एटीआर 72-500 है, इसका रजिस्ट्रेशन नंबर 9N-ANC और सीरियल नंबर 754 है. यह विमान अविश्वसनीय डेटा वाले पुराने ट्रांसपोंडर से लैस था. 

 
बताया जा रहा है कि विमान में 72 लोग सवार थे. इनमें 5 भारतीय भी थे. विमान रविवार को नेपाल के पोखरा में एयरपोर्ट पर उतरते समय विमान पहाड़ी से टकरा गया और खाई में गिर गया. नेपाल उड्डयन मंत्रालय के मुताबिक, विमान में 68 यात्री और 4 क्रू मेंबर्स सवार थे. 

Share this story